जो सभी का मित्र होता है वो किसी का मित्र नहीं होता है. अरस्तु